Prv Next

Programing in C e-Book In Hindi

 

Pre-Procisis or  Directiv in hindi


    प्रीप्रोसिसर c Language का एक खास गुण है जो इसे अन्य उच्चा स्तरीय भाषा से विशीष्ट बनता है c भाषा में प्रीप्रोसिसर का प्रयोग यूजर अपने प्रोग्राम को अधिक सरल बनाने तथा बेहतर बनाने में मदद करता है इसके आलावा यह प्रोग्राम को संशोधित करने में मदद करता है

 

प्रीप्रोसिसर वह प्रोग्राम है जो सोर्स कोड को कम्पाइलर से पहले पढता है वहा प्रोग्राम कमांड लाइन निर्देशों के अंतर्गत लिखे जाते है ये सही निर्देश  # चिन्ह से शुरू होते है इसके अंत में सेमीकॉलन नहीं लगाया जाता है प्रेप्रोसिसर डाइरेक्तिव किसी भी सोर्स प्रोग्राम में main () से पहले लिखा जाता है सामान्य रूप से प्रचलित प्रीप्रोसिसर को  निम्लिखित भागो में विभाजित किये जा सकते है

 

 

  1. Macro Substitution directives
  2. File inclusion Directives
  3. Compiler control Directive

 

 


.

Subscribe Our Website For Get Notification For New Update

Enter Name :
Enter E-Mail
Enter Mobile No
Enter City Name :